Tag: Saans

Chand saansein

चंद साँसें

Hindi Poetry/Quotes/Status साँस अटकी हुई थी सीने में, तुमने रस्ते बदल लिए थे अपने जीने के। हम अकेले ही जिये जायेंगे न कहानी न परवाज़ कोई। In Hindi चंद साँसों की लड़ियाँ अटकी पड़ी थीं अकेले तो हम बस कदम...

/ September 13, 2018

ख़त आज भी साँस लेते हैं

पता है तुमको सिर्फ़ तुम ही नहीं तुम्हारे खत भी साँस लेते हैं। In Hindi पुरानी कहानियों के सारे पत्ते बुन कर के उस छोटे कुंड में जला दिये थे मैंने कल फिर से कुछ ढूंढ़ने बैठा था डायरी में...

/ July 17, 2018