नई ख्वाइशें

By कविता, हिंदी

Hindi Poetry/Quotes/Status तुम और तुम्हारी छाओं का सरमाया । In Hindi जो छाओं तुमसे मिली तो जीने लगा हूँ मैं अब धूप में जाने से

नज़र आयी

By कविता, हिंदी

Hindi Poetry/Quotes/Status तुम ही तुम दिखती हो यहाँ से वहां तक। In Hindi चश्मों को चश्मों के झरोंखे से देखा तो भी तुम ही नज़र

गोधुली सी शाम

By कविता, हिंदी

Hindi Poetry/Quotes/Status चुप है ये आकाश ये धरती भी चुप है बस इंतज़ार है … In Hindi गोधुली सी शाम की तनहा चमकती रौशनी रोपी

एक शाम भीनी सी

By कविता, हिंदी

Hindi Poetry/Quotes/Status तुम्हारी आदतें हैं या कहूँ एक शाम भीनी सी । In Hindi ख़यालों में सोचते-सोचते बिन कहे मुस्कुरा देना ग़मों की भीड़ में

चंद साँसें

By कविता, हिंदी

Hindi Poetry/Quotes/Status साँस अटकी हुई थी सीने में, तुमने रस्ते बदल लिए थे अपने जीने के। हम अकेले ही जिये जायेंगे न कहानी न परवाज़

शाम बहकी थी

By कविता, हिंदी

Hindi Poetry/Quotes/Status अभी भी इंतज़ार बाकी है मेरी आँखों में । In Hindi शाम बहकी थी थोड़ी और गुल खिले भी थे पसरती आँख की

रूखी सड़क

By Poem, कविता, हिंदी

Hindi Poetry/Quotes/Status ज़िंदगी दौड़ती फिरती है बस, थोड़ा सांस ले तो मैं भी कुछ कहूँ उससे। In Hindi कैसी रूखी सड़क है ये, न कोई